Tuesday, 12 July 2016

सुधा राजे का देशराग:- " भारत के पुत्रों जागो!!!"

जागो जागो जागो
हे आर्यवर्तियो जागो ',
माँगो छीनो माँगो '
अधिकार देश के माँगो ',
हे विप्रदेव हे क्षात्रवीर हे लक्षमीपुत्रो जागो '
हलधर जलधर गोपालो
हे कृषक श्रमिक उठ भागो ।
जागो जागो जागो,
'बढ़ गये कीट क्रूर कुविचारी अब तो निद्रा त्यागो ',
हे ब्रह्मसंतती जागो ।।
भारत के वीरो जागो
हे आर्यपुत्र हे ब्रह्मअंश हे महावीर सुत जागो
काशमीर से निकल शारदा जम्मू विकल पङी है!!!!!!!!!
कीट पतंगो खलों श्रृगालों की यूँ भीङ बढ़ी है ।
रोद्ररूप धारण चिनाब ने किया,
गंग बिगङी है ',
चलो उठी हुंकार कालिका
अब तो निद्रा त्यागो!!!!!!!!!!
हे शिवा संतती जागो
राणा के पुत्रो जागो
हे परशु वंशजो जागो '
वीर धीर बढ़ चलो
लङ रहे लाल
उठो घर त्यागो
हे भरतवंशियो जागो 'भारत के लालो जागो '
उठो उठालो शस्त्र देश है संकट मे
ं मत भागो """
©®सुधा राजे

No comments:

Post a Comment